मच्छर भगाने के नुस्खे – जैसे ही गर्मियों के बाद बारिश आने का समय होता है तो घरों में मच्छर पनपने लगते हैं, रुके हुए पानी और गन्दी जगहों में मच्छर पैदा हो जाते हैं जिनसे फिर भयंकर बीमारियाँ पैदा होती हैं, और ऐसे में आज कल बाज़ार में मिलने वाली Coil और mosquito repellent स्वास्थ्य को बहुत भयंकर नुक्सान देते हैं.

ऐसे में आयुर्वेद में कुछ एक ऐसी विधियाँ बतायीं गयीं हैं जिनको अपनाने से घर में कोई मच्छर नहीं आएगा. मच्छर के साथ साथ यह विधि पिस्सू और खटमल को भी दूर भगाएगी. तो आइये आज आपको Only Ayurved के सौजन्य  से बताते हैं कैसे पाए मच्छरों, पिस्सू और खटमल से छुटकारा.

नोट – सबसे पहले तो घर में और अपने आस पास साफ़ सफाई रखें, क्यूंकि मच्छर गन्दी जगह में ही अपना घर बनाते हैं. पानी जहाँ पर रुके उसकी निकासी रखो. बिस्तर को मच्छर दानी से ढक कर रखो. मच्छर भगाने के नुस्खे

  1. सनोवर की लकड़ी की भूसी या उसके छिलकों की धुनी देने से मच्छर भाग जाते हैं.
  2. छरीला और फिटकरी के धुएं से मच्छर भाग जाते हैं.
  3. सर्रू के पत्ते और सर्रू की लकड़ी बिछोने पर रखने से मच्छर खाट के पास नहीं आते.
  4. इन्द्रायण का रस या पानी मकान में छिड़क देने से पिस्सू और मच्छर नहीं आते.
  5. गंधक की धूनी या कनेर के पत्तों की धूनी देने से पिस्सू और मच्छर भाग जाते हैं.
  6. गुग्गुल गोंद की धूनी से मच्छर भाग जाते हैं.
  7. जब घर में पोछा लगाये तो कनेर के पत्तों का रस मिलाकर लगायें, इस से मच्छर और पिस्सू भाग जायेंगे.
  8. बादाम का तेल लगाने से मच्छर नहीं काटेंगे.
  9. गंधक को महीन पीसकर इसको तेल में मिलाकर शरीर पर मालिश करें, और फिर साफ़ पानी से नहा लें. मच्छर नहीं काटेंगे.
  10. मच्छरों को नीला और बैंगनी रंग बहुत पसंद हैं, वो इस रंग के प्रति आकर्षित होते हैं. ऐसे में आप घरों में ये रंग का इस्तेमाल मत कीजिये.




Leave a comment :